खास खबरप्रदेश

जयमाल के बाद शादी हुई कैंसिल

रोसड़ा(समस्तीपुर) दुल्हन ने जयमाल के वक्त अपने से दुगुने उम्र के दूल्हे राजा को देखी तो उसके होश ही उड़ गए. पहली ही नजर में दूल्हा को रिजेक्ट करने का निर्णय ले लिया. सैकड़ों लोगों के बीच लोक लिहाज के डर से आधे अधूरे मन से जयमाल की रस्म तो पूरी कर दी लेकिन जयमाला के बाद घर में घुसते ही उसका पारा गरम हो गया. उसने साफ—साफ शब्दों में अपने परिजनों को कह दिया कि इस बुड्ढे लड़के से मैं शादी नहीं करुंगी.मेरे साथ जोर—जबरदस्ती की गयी तो आत्महत्या कर लूंगी. परिजन एवं ग्रामीणों ने लाख समझाया पर वह अपने फैसले पर अडिग रही. वहीं दूल्हे राजा शादी करने के लिए रात भर मंडप पर बैठे रह गये लेकिन दुल्हन मंडप पर नहीं आई. अंततः दूल्हे राजा बिना सात फेरे लिए ही अपने परिजन व बाराती के साथ बैरंग वापस लौटने को विवश हो गए. उक्त घटना रोसड़ा थाना क्षेत्र के लालपुर गांव की है. दुल्हन के इस फैसले पर जहां कुछ लोग उसे शाबाशी दे रहे हैं वहीं कुछ लोग दुल्हन के इस कदम को गलत बता रहे हैं.प्राप्त जानकारी के अनुसार लालपुर निवासी रामचन्द्र महतो की पुत्री की शादी बाघोपुर के अखिलेश महतो के पुत्र सुजीत कुमार के साथ होनी थी. शादी के लिए काफी साज- सज्जा के साथ बारात भी आई थी. धूमधाम से दरवाजा भी लगा था. बारातियों का मान-सम्मान भी काफी शानदार तरीके से किया गया था.दूल्हा-दुल्हन के नैन जैसे ही मिले उसके बाद से मामला बिगड़ना शुरू हो गया. दूल्हा की उम्र 38 वर्ष और दुल्हन की उम्र 17 वर्ष बतायी जा रही है. लोगों की कानाफूसी पर अगर यकीन करें तो उक्त दूल्हा की दूसरी शादी होने जा रही थी जिससे दुल्हन के परिजन भी अनभिज्ञ थे.लड़की के पिता रामचन्द्र महतो ने कहा कि जो हुआ अच्छा ही हुआ. लड़का पूर्व में भी शादी कर चुका है. इसकी जानकारी किसी रिश्तेदार से मिली है. भगवान् का लाख शुक्र है कि बेटी की जिंदगी बर्बाद होने से बच गया, धोखाधड़ी मे रिश्तेदार के चक्कर मे बेटी की जिंदगी बर्बाद हो जाती ।

Show More

Related Articles

Close
Close